Powered by Blogger.

ഒരു ഹൈടെക് പുതുവര്‍ഷത്തിലേയ്ക്ക് ഏവര്‍ക്കും സ്വാഗതം.....

അഭ്യാസമില്ലാത്തവര്‍ പാകം ചെയ്തെതെന്നോര്‍ത്ത് സഭ്യരാം ജനം കല്ലുനീക്കിയും ഭുജിച്ചീടും..എന്ന വിശ്വാസത്തോടെ

Wednesday, April 06, 2011

समूह प्रस्‍तुतिकरण के मूल्‍यांकन के लिए उपकरण- रुब्रिक : चंद्रिका मुरलीधर

(साभार  : http://www.teachersofindia.org)
कक्षाओं में समय-समय पर विद्यार्थियों को कुछ विषयों पर समूहों में काम करना होता है। बाद में उनसे यह अपेक्षा भी होती है कि वे समूहवार अपने काम का प्रस्‍तुतिकरण करें। विद्यार्थियों के सामने यह समस्‍या होती है कि वे प्रस्‍तुतिकरण की तैयारी किस तरह करें । उसमें किन बातों का ध्‍यान रखें। दूसरी तरफ शिक्षकों के सामने भी यह समस्‍या होती है कि वे उनके प्रस्‍तुतिकरण का आकलन कैसे करें,आकलन में किन बातों को महत्‍व दें। समूह प्रस्तुतिकरण गतिविधि की प्रक्रिया में बहुत तैयारी लगती है तथा इसके बहुत सारे पहलु होते हैं। 
इन बातों को ध्‍यान में रखकर यहां एक ऐसा उपकरण  प्रस्‍तुत किया जा रहा है जो इस गतिविधि के मूल्यांकन के लिए सबसे उपयुक्त माना जा सकता है। यह मूल्यांकन के विभिन्न बिन्‍दुओं को ध्यान में रखता है। तो अधिक जानने के लिए नीचे दी लिंक पर क्लिक करें-
समूह प्रस्‍तुतिकरण मूल्‍यांकन के लिए उपकरण- रुब्रिक : चंद्रिका मुरलीधर

No comments:

Post a Comment

'हिंदी सभा' ब्लॉग मे आपका स्वागत है।
यदि आप इस ब्लॉग की सामग्री को पसंद करते है, तो इसके समर्थक बनिए।
धन्यवाद

© hindiblogg-a community for hindi teachers
  

TopBottom