Powered by Blogger.

ഒരു ഹൈടെക് പുതുവര്‍ഷത്തിലേയ്ക്ക് ഏവര്‍ക്കും സ്വാഗതം.....

അഭ്യാസമില്ലാത്തവര്‍ പാകം ചെയ്തെതെന്നോര്‍ത്ത് സഭ്യരാം ജനം കല്ലുനീക്കിയും ഭുജിച്ചീടും..എന്ന വിശ്വാസത്തോടെ

Tuesday, December 18, 2012

II nd Term Exam 2012-13 X Hin Qn – कुछ विचार

17-12-2012 को चलाई गई द्वितीय कालांत मूल्यांकन दसवीं हिंदी के प्रश्न-पत्र का विश्लेषण करने पर जो कमियाँ ध्यान में आई हैं मैं यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ। विशेषत: व्याकरण के प्रश्न (16,17) कठिन लगते हैं। व्याकरण के प्रश्नों के उत्तर निश्चित होते हैं। उसके उत्तर में अधिक कठिनाई और दुविधा छात्रों के अंक कम होने के लिए कारण बन जाते हैं।
तैयारी: Ravi, chiragknr1.blogspot.com
1. प्रश्न 2 में 'डौली माली के बच्चों के साथ खेलना पसंद करती है' घटना के रूप दिया गया है। यह वाक्य घटना कहलानेयोग्य नहीं है। इसे एक कथन या प्रस्ताव मानना समीचीन होगा।
2. प्रश्न 6 का उत्तर लिखने में छात्र कठिनाई महसूस करेंगे। कुछ बच्चे भावनापरक उत्तर लिखेंगे। सच्चे दिल से नहीं।
3. प्रश्न 9 और 10 के लिए सहायक बिंदु दें तो छात्रों को थोड़ा-सा आराम महसूस होगा।
4. प्रश्न 13 कवितांश के अनुसार आशय लिखना थोड़ा-सा कठिन लगता है। कविता का दूसरा छंद पहले की तुलना में अधिक कठिन लगता है।
5. प्रश्न 16 तीन वाक्यों को जोड़ने का है। योजक का प्रयोग भी करना है।मेरा विचार है कि पहले कभी ऐसा नहीं दिया गया था। यह एक कठिन प्रश्न है। होशियार बच्चे ही लिख पाएँगे।
6. प्रश्न 17 उचित विशेषणों का प्रयोग करके रिक्त स्थानों की पूर्ति बहुत कठिन है। क्योंकि इसमें चारों विशेषण कठिन हैं। क्योंकि ऐसे ही असाधारण वाक्य भी दिए गए हैं। बहुमत इसके उत्तर लिख नहीं पाएँगे।'बिखरे' शब्द से विरले ही बच्चे परिचित होंगे। संदर्भ भी दुविधाजनक है। क्योंकि बच्चे 'लाल फूल' लिखेंगे। 'लाल आँखें' बच्चों की उम्मीद के बाहर होंगी।
7. गद्यांश के पहले वाक्य में 'लगवाते' के बदले में 'लगावाते' दिया गया है।
8. प्रश्न 21 '….......तैयारियाँ करनी हैं' होना चाहिए था। इसका उत्तर थोड़ा-सा कठिन होगा। क्योंकि गद्यांश से छात्रों को सहायता नही मिलेगी

No comments:

Post a Comment

'हिंदी सभा' ब्लॉग मे आपका स्वागत है।
यदि आप इस ब्लॉग की सामग्री को पसंद करते है, तो इसके समर्थक बनिए।
धन्यवाद

© hindiblogg-a community for hindi teachers
  

TopBottom